Warning: Creating default object from empty value in /home/wpchamp/public_html/kalyan/hn/wp-content/themes/kalyan-hn-theme/functions/admin-hooks.php on line 160

शोषण

स्वज्ञान के बिना जो कुछ भी करेंगे वह वास्तविक तौर पर हिंसा और शोषण को बढावा देगा । जैसे किसी का शोषण करना गलत है वैसे ही अपना शोषण करने देना भ अयोग्य है । आज समग्र जगत शोषण की तरफ झुक रहा है तभी अलिप्त और शोषण रहित कैसे जीए वह सीखें ।

Tags: , ,